Friendship Shayari

Friendship Shayari, Dosti Shayari, Friendship Shayari in Hindi: Looking Best Shayari for Friendship, We are providing Large Collection of Latest Shayari on Dosti Shayari In Hindi

“Jo Dil Ke Ho Kareeb Use Ruswa Nahi Karte
Yun Apni Dosti Ka Tamasha Nahi Karte
Khamosh Rahoge Toh Ghutan Aur Badegi
Apno Se Koi Baat Chhupaya Nahi Karte.”

“जो दिल के हो करीब उसे रुसवा नहीं करते
यूँ अपनी दोस्ती का तमाशा नहीं करते
खामोश रहोगे तो घुटन और बढ़ेगी
अपनों से कोई बात छुपाया नहीं करते”

Friendship Shayari

“Woh Baat Kya Karun Jiski Khabar Hi Na Ho
Woh Dua Kya Karun Jiska Asar Hi Na Ho
Kaise Keh Dun Aapko Lag Jaye Meri Bhi Umr
Kya Pata Agle Pal Meri Umr Hi Na Ho”

“वो बात क्या करूँ जिसकी खबर ही न हो
वो दुआ क्या करूँ जिसमे असर ही न हो
कैसे कह दूँ आपको लग जाये मेरी भी उम्र
क्या पता अगले पल मेरी उम्र ही न हो”

Friendship Shayari In Hindi

“Khushi Ki Parchhaiyon Ka Naam Hai Zindgi
Ghamo Ki Gahraiyon Ka Jaam Ha Zindgi
Ek Pyara Sa Dost Hai Humara Yahan
Uski Pyari Si Hansi Ka Naam Hai Zindgi”

“ख़ुशी की परछाइयों का नाम है जिंदगी
गमों की गहराईओं का जाम है जिंदगी
एक प्यारा सा दोस्त है हमारा यहाँ
उसकी प्यारी सी हँसी का नाम है जिंदगी”

Friendship Shayari

“Waqt Ki Yaari Toh Har Koi Kar Leta Hai Dost
Mazaa Toh Tab Hai Jab Waqt Badle Par Yaar Na Badle
वक्त की यारी तो हर कोई करता है मेरे दोस्त
मजा तो तब है जब वक्त बदले पर यार ना बदले”

“Dekhi Jo Nabj Meri Toh Hans Kar Bola Hakeem
Tere Marz Ka Ilaaj Mehfil Hai Tere Doston Ki.
देखी जो नब्ज मेरी तो हँस कर बोला हकीम
तेरे मर्ज़ का इलाज महफ़िल है तेरे दोस्तों की”

Friendship Shayari In Hindi

“Kuchh Toh Baar Hai Teri Fitrat Mein Aye Dost, Varna
Tujhe Yaad Karne Ki Khata Hum Baar Baar Na Karte.
कुछ तो बात है तेरी फितरत में ऐ दोस्त, वरना
तुझे याद करने की खता हम बार-बार न करते”

“Khushi Se Beete Har Din Har Suhaani Raat Ho
Jis Taraf Aapke Kadam Pade Phoolo Ki Barsaat Ho.
ख़ुशी से बीते हर दिल हर सुहानी रात हो
जिस तरफ आपके कदम पड़े फूलो के बरसात हो”

Friendship Shayari

“Na Koi Gila Karta Hun Na Shiqwa Karta Hun
Tum Salamat Raho Bas Yehi Dua Karta Hun.
न कोई गिला करता हूँ न शिकवा करता हूँ
तुम सलामत रहो बस यही दुआ करता हूँ”

“GunGunana Toh Takdir Mein Likha Kar Laye The
KhilKhilana Doston Se Tohfe Mein Mil Gaya
गुनगुनाना तो तकदीर में लिखा कर लाए थे
खिलखिलाना दोस्तों से तोहफ़े में मिल गया”

Friendship Shayari In Hindi

“Aapki Humari Dosti Suron Ka Saaj Hai
Aap Jaise Dost Par Hamein Naaz Hai
Ab Chaahe Kuchh Bhi Ho Jaye Zindgi Mein
Dosti Waise Hi Rahegi Jaise Aaj Hai”

“आपकी हमारी दोस्ती सुरों का साज है
आप जैसे दोस्त पर हमें नाज़ है
अब चाहे कुछ भी हो जाये जिंदगी में
दोस्ती वैसे ही रहेगी जैसे आज है”

Friendship Shayari

“Jab Saath Bitaya Waqt Yaad Aata Hai,
Meri Palko Par Aansu Chhor Jata Hai
Koi Aur Mil Jaye Toh Humein Na Bhul Jana
Dosti Ka Rishta Zindgi Bhar Kaam Aata Hai”

“जब साथ बिताया वक़्त याद आता है
मेरी पलकों पर आंसू छोड़ जाता है
कोई और मिल जाये तो हमें न भूल जाना
दोस्ती का रिश्ता जिंदगी भर काम आता है”

Friendship Shayari In Hindi

“Geet Ki Jarurat Mahfil Mein Hoti Hai
Pyar Kijarurat Dil Mein Hoti Hai
Bina Dost Ke Adhuri Hai Zindgi
Kyunki Dost Ki Jarurat Har Pal Mein Hoti Hai”

“गीत की ज़रूरत महफिल में होती है
प्यार की ज़रूरत दिल में होती है
बिना दोस्त के अधूरी है ज़िन्दगी
क्योंकि दोस्त की ज़रूरत हर पल में होती है”

Friendship Shayari

“Har Pal Ki Dosti Ka Irada Hai Aapse
ApnaPan Hi Kuchh Jyada Hai Aapse
Saath Honge Aapke Umr Bhar Ke Liye
Hamesha Dosti Nibhayenge Vada Hai Aapse”

“हर पल की दोस्ती का इरादा है आपसे
अपनापन ही कुछ ज्यादा है आपसे
साथ होंगे आपके उम्र भर के लिये
हमेशा दोस्ती निभाएंगे वादा है आपसे”

Friendship Shayari In Hindi

“Milna Bichhdna Sab Kismat Ka Khel Hai
Kabhi Nafrat Toh Kabhi Dilo Ka Mel Hai
Bik Jata Hai Har Rishta Iss Zamane Mein
Sirf Dosti Hi Yahan Not For Sale Hai”

“Dost Ne Dil Ka Haal Bataana Chhor Diya
Humne Bhi Gehrayi Mein Jana Chhor Diya
Aap Ne SMS Karna Kya Band Kar Diya
Humne Mobile ReCharge Karana Chhor Diya”

Friendship Shayari

“Zindgi Nahin Humein Doston Se Pyari
Doston Pe Haajir Hai Jaan Humari
Aankhon Mein Humari Aansu Hai Toh Kya
Khud Se Bhi Pyaari Hai Muskaan Tumhari”

“Tum Se Ye Dil Se Promise Hai Humara
Na Chhodenge Kabhi Saath Tumhara
Jo Kahin Gaye Tum Humein Bhool Kar
Le Aayenge Pakad Kar Haath Tumhara”

Friendship Shayari In Hindi

“Sachchi Hai Meri Dosti Aazma Ke Dekh Lo
Karke Yakeen Mujh Pe Mere Paas Aake Dekh Lo
Badalta Nahi Kabhi Sonaa Apna Rang
Jitni Baar Chahe Aag Laga Kar Dekh Lo”

“सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देखलो
करके यकीं मुझ पे मेरे पास आ के देखलो
बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग
जितनी बार चाहे आग लगा कर देखलो”

Friendship Shayari

“Tu Dur Hai Mujhse Aur Paas Bhi Hai
Mujhe Teri Kami Ka Ehsaas Bhi Hai
Dost Toh Humare Lakhon Hain Iss Jahan Mein
Par Tu Pyara Bhi Hai Aur Khaas Bhi Hai”

“तू दूर है मुझसे और पास भी है
मुझे तेरी कमी का एहसास भी है
दोस्त तो हमारे लाखों हैं इस जहाँ में
पर तू प्यारा भी है और खास भी है”

Friendship Shayari In Hindi

“Dosti Dard Nahi Khushiyon Ki Saugat Hai
Kisi Apne Ka Zindgi Bhar Ka Saath Hai
Ye Toh Dilon Ka Woh KhoobSurat Ehsaas Hai
Jiske Dam Se Roshan Yeh Saari Kaaynat Hai”

“दोस्ती दर्द नहीं खुशियों की सौगात है
किसी अपने का ज़िंदगी भर का साथ है
ये तो दिलों का वो खूबसूरत एहसास है
जिसके दम से रौशन ये सारी कायनात है”

Friendship Shayari

“Apni Zindgi Ke Kuchh Alag Hi Usool Hain
Dosti Ki Khatir Hamein Kante Bhi Kabool Hain
Hans Kar Chal Denge Kaanch Ke Tukdo Par Bhi
Agar Dost Kahe Yeh Dosti Mein Bichhaye Phool Hain”

“अपनी ज़िंदगी के कुछ अलग ही उसूल हैं
दोस्ती की खातिर हमें काँटे भी क़बूल हैं
हँस कर चल देंगे काँच के टुकड़ों पर भी
अगर दोस्त कहे यह दोस्ती में बिछाये फूल हैं”

Friendship Shayari In Hindi

“Rishton Se Badi Chahat Aur Kya Hogi
Dosti Se Badi Ibadat Aur Kya Hogi
Jise Dost Mil Sake Koyi Aap Jaisa
Use Zindgi Se Koyi Aur Shikayat Kya Hogi”

“रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी
दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी
जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा
उसे ज़िंदगी से कोई और शिकायत क्या होगी”

Friendship Shayari

“Hum Woh Phool Hain Jo Roz Nahi Khilte
Yeh Woh Honth Hain Jo Kabhi Nahi Silte
Hum Se Bichhdoge Toh Ehsaas Hoga Tumhe
Hum Woh Dost Hain Jo Roz Roz Nahi Milte”

“हम वो फूल हैं जो रोज़ रोज़ नहीं खिलते
यह वो होंठ हैं जो कभी नहीं सिलते
हम से बिछड़ोगे तो एहसास होगा तुम्हें
हम वो दोस्त हैं जो रोज़ रोज़ नहीं मिलते”

Friendship Shayari In Hindi

“Kis Had Tak Jana Hai Yeh Kaun Janta Hai
Kis Manzil Ko Pana Hai Yeh Kaun Janta Hai
Dosti Ke Do Pal Jee Bhar Ke Jee Lo
Kis Roz Bichhad Jana Hai Yeh Kaun Janta Hai”

“किस हद तक जाना है ये कौन जानता है
किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है
दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो
किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है”

HindStatus.Com